LBW: अपने बारे में पाठकों को कुछ बताएं

मनु त्यागी: मैं एक सामान्य या कह लीजिये आम इंसान हूं जो नौकरी के द्धारा अपनी दो वक्त की रोजी-रोटी के लिये संघर्षशील है

LBW: ब्लॉग बनाने का ख्याल कैसे आया?

मनु त्यागी: मैं समय और थोडा धन लगाकर एक ही शौक करता हूँ, घूमने का और जब मैंने कई बार घूमने जाने के लिये जानकारी इकठ्ठी करने के लिये नेट पर आया तो मेरे हाथ कुछ हिंदी और अंग्रेजी के अच्छे ब्लाग लगे जिनसे मैं प्रभावित हुआ।

मैंने देखा कि जो लोग हमारे यात्रा वृतांतों को सुनने के लिये समय नहीं देते वे ही नेट पर दूसरों के लेख पढकर खुश होते हैं तो क्यों न मैं भी अपना ब्लाग बनाऊँ और लोग उसे जब चाहें तब पढें|

ब्लॉग बनाने के पीछे एक सोच ये भी थी कि जैसे मुझे नेट से जानकारी मिली और ये ब्लाग मेरे लिये सहायक हुआ ऐसा मैं भी किसी के लिये कर पाऊँ|

LBW: आपके कितने ब्लॉग हैं, सभी के बारे में हमारे पाठकों को बताइए|

मनु त्यागी: मैने पहले एक ही ब्लाग बनाया था, वन टूरिस्ट , पर बाद में योगेन्द्र पाल के ब्लॉग को पढ़ कर तथा Learn By Watch के वीडियो को देखकर और विज्ञापन लगाने के लिये मैंने एक ब्लाग अंग्रेजी का एक ब्लॉग शुरू किया है जिसका नाम है 1 Tourist | इसके अलावा मेरे मित्र और परिचित योग गुरू सुकेतानंद जी के येाग के तरीकों को जनता तक पहुँचाने के लिये योग गुरू जी ब्लॉग प्रारंभ किया है|

दोनों ब्लाग अभी निर्माण प्रक्रिया में हैं क्योंकि मैं अभी अपने पुराने संस्मरण लिखने में ही व्यस्त हूं और जैसे ही समय मिलेगा मैं इन्हें भी पूरा करूंगा|

LBW: आप किन-किन बिषयों पर ब्लॉग लिखते हैं?

मनु त्यागी: लिखने तथा पढ़ने के लिए मेरा एक और केवल एकमात्र प्रिय विषय है, यात्रा !!! मेरा ब्लाग मेरी 18 राज्यो एवं 4 केंद्र शासित प्रदेशों सहित कुल 22 राज्यों में लाखों किलोमीटर की गई यात्रा का सफरनामा पाठकों के सामने प्रस्तुत करता है|

हाँ, इसके अतिरिक्त मेरी रूचि तकनीकी ब्लॉग को पढने में है और कोई भी ऐसा ब्लॉग मैं पढ़ने से नही चूकता

LBW: क्या लेख लिखते समय आप कभी अटके हैं? फिर आपने क्या किया?

मनु त्यागी: हाँ, कई बार मैं लेख लिखते समय अटका क्योंकि जिस बात को या जानकारी को मैं लिख रहा हूँ उसके बारे में कोई ऐसा तथ्य तो नहीं जो छूट गया हो या गलत हो या उससे किसी धर्म या व्यक्ति को ठेस तो नही पहुंचती …….ऐसा कुछ कई बार हुआ और उसके बाद मैंने या तो उस लाइन की पूरी तसदीक की तब लिखा या उसको घुमा दिया पर लिखा जरूर|

LBW: क्या आप अपने ब्लॉग को मार्केट करते हैं? यदि हाँ तो उसके लिए आप किस तरीके का प्रयोग करते हैं?

मनु त्यागी: मैं अभी तक सिर्फ अपने ब्लाग को लिखने की कोशिश कर रहा हूँ जो कि काफी लंबे संस्मरण हैं| मार्केट करने के लिये मैंने  सच में LBW के  विडियो का सहारा लिया और एडसेंस लगाया साथ ही अंग्रेजी ब्लाग भी बना रहा हूं। इससे ज्यादा अभी तक मैंने कुछ नहीं किया है

LBW: एक ब्लॉगर का अपने पाठकों से संवाद करना कितना जरूरी है? क्या आप अपने पाठकों के सभी कमेन्ट पर कमेन्ट करते हैं?

मनु त्यागी: एक ब्लागर के रूप में ही नहीं एक पाठक के रूप में भी मैंने जब कहीं कोई अच्छा लेख पाकर उसकी प्रशंसा में कमेन्ट किया और उसका जबाब नहीं आया तो मुझे बहुत बुरा लगा। इसलिये जिसने भी मेरे लेख पर कमेंट किया मैंने उसका तुरंत जबाब दिया और ये बहुत जरूरी है|

LBW: ब्लोगिंग की कौन सी बात आपको सबसे ज्यादा बेहतर लगी?

मनु त्यागी: ब्लोगिंग में सबसे बेहतर बात ये है कि आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है और आप दुनिया के लिये सर्व-सुलभ हो जाओगे।थोडा सा कम्प्यूटर का ज्ञान आपको एक अलग ही दुनिया में ले जाता है|

LBW: आप किस ब्लॉग से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं?

मनु त्यागी: सच पूछिये तो मुझे सिर्फ यात्रा ब्लाग और तकनीकी ब्लाग ही ज्यादा पसंद आते हैं, जिनमें संदीप जाट उर्फ जाट देवता , मनीष कुमार ट्रेवल विद मनीष , और हिंदी में काम कर रहे सभी तकनीकी ब्लोगों जिनमें आपका ब्लाग और वीडियो चैनल भी शामिल है से बहुत प्रभावित हूं क्योंकि हम जो कर रहे हैं उसमें हिंदी तकनीकी ब्लाग्स की सहायता के बिना कुछ भी नहीं होता

LBW: आपकी पसंदीदा सोशल नेट्वर्किंग साइट कौन सी है?

मनु त्यागी: वैसे मैं इन साइटो को ज्यादा पसंद नही करता पर आजकल काफी लोगों से मेल की अपेक्षा इन पर संवाद करना और मिलना ज्यादा सुलभ है और मैं केवल फेसबुक ही इस्तेमाल करता हूं और कोई नही क्योंकि मै इन्हें इतना समय नही दे सकता|

LBW: क्या आप अपना फेसबुक का एड्रेस देंगे जिससे हमारे पाठक आपको फोलो कर सकें|

मनु त्यागी: क्यूँ नहीं आप मुझे फेसबुक पर यहाँ मिल सकते हैं – https://www.facebook.com/manuprakashtyagi

LBW: आप नये ब्लोगरों को क्या सुझाव देना चाहेंगे?

मनु त्यागी: मैं नये ब्लॉगरों को यही कहना चाहूंगा ​कि ब्लोगिंग शुरू करने से पहले मैने योगेन्द्र पाल के एक लेख जिसमें उन्होंने एक लाइन लिखी है कि

“आपके पास क्या है जो किसी पाठक को आपके पास लायेगा? इसको ध्यान रखें। वैसे तो किसी पर कोई रोक नही है कोई कुछ भी बना सकता है और लिख सकता है पर एक आम पाठक क्या चाहता है वो महत्वपूर्ण है जैसे कि वो नेट पर क्यों आता है? किसी जानकारी को ढूंढने सबसे ज्यादा जैसे कुछ भी बनाना या खोजना या इतिहास आदि तो इसको ध्यान में रखोगे तो बढिया, वरना ब्लागर तो आप बन ही जाओगे पर एक अच्छे लेखक नही |”

LBW: हिन्दी ब्लॉगरों से कोई खास शिकायत?

मनु त्यागी: हाँ, जब तक मैं आपके ब्लाग पर जाकर कमेंट ना दूं तब तक आप भी मेरे यहां नही आयेंगे ये प्रवृत्ति छोडनी होगी बाकी सब अपनी मर्जी के मालिक हैं|

LBW: LBW Blogging हमारा नया प्रोजेक्ट है इससे आप क्या उम्मीद करते हैं?

मनु त्यागी: बहुत ज्यादा उम्मीद ………. मैं आपको बताना चाहता हूँ कि मै आपको इतना परेशान नहीं कर सकता था जितना आपके वीडियो को किया है 🙂 ……मेरा आशय है कि आपने वीडियो बनाया और सभी के देखने के लिए छोड दिया, मैंने उसे देखा और अपने ब्लाग को सुंदर बनाया| लिखे हुए से ज्यादा हमेशा दिखा अच्छी तरह समझ में आता है। इसलिये आगे भी मै इस चैनल में नये-नये वीडियो की बढोतरी चाहता हूँ|

यह एक प्रयास है आपके सामने उन ब्लोगरों को आपके सामने लाने का जिनसे ब्लॉग जगत अभी तक वाकिफ नहीं है, हमें उम्मीद है कि हमारे इस प्रयास से हम ब्लोगरों की हौसला अफजाई करके उनको और भी बेहतर करने के लिए प्रेरित कर सकेंगे,  LBW मनु त्यागी जी का कीमती समय देने के लिए तहे-दिल से शुक्रिया अदा करता है|

यदि आप भी एक ब्लोगर हैं और आपका ब्लॉग भी अभी तक अन्य ब्लोगरों की नज़रों से छुपा हुआ है तो हमें ई-मेल कीजिये [email protected](link sends e-mail) पर – धन्यवाद|


Ph.D. (IIT Bombay), M.Tech., B.Tech. (CSE) Dr. Yogendra Pal finished his Ph.D. from Educational Technology department at IIT Bombay. Mr. Pal holds B.Tech. and M.Tech. Degrees in Computer Science and Engineering. His interests include programming, web development, graphic design and educational technology.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.