ब्लॉग बुलेटिन - ब्लॉग जगत की बगिया के रोज के चुनिन्दा फूल

    ब्लॉग-जगत को पिछले कुछ बर्षों में एक के बाद एक लगातार झटके लगे जब एक-एक करके सभी ब्लॉग एग्रीगेटर बंद होते गए, पहले ब्लॉगवाणी फिर चिट्ठाजगत उसके बाद कुछ और लोगों ने भी कोशिश की जिसमें से अपना ब्लॉग तो कुछ समय बाद ही धराशायी हो गया, हालांकि हमारीवाणी और हारम अभी एग्रीगेटर की सुविधा दे रहे हैं पर उनमें ब्लॉगवाणी जैसी बात नहीं है| ब्लॉग-जगत को ऐसे समय पर कुछ ऐसा चाहिए था जो पूरे ब्लॉग-जगत की जानकारी उन तक पहुंचाए, जैसा कहते हैं कि आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, ऐसा ही ब्लॉग जगत में भी हुआ, कुछ ब्लोगर आगे आए और उन्होंने ऐसे ब्लॉग बनाए जिसमें वो पूरे ब्लॉगजगत का निरिक्षण करके कुछ चुनिन्दा पोस्टें प्रतिदिन आपके सामने लेकर आते हैं| ऐसे ही ब्लोग्स में से एक प्रमुख है - ब्लॉग बुलेटिन|

     13 नवंबर 2011 को प्रारंभ किये गए इस ब्लॉग ने बहुत जल्द सफलता के उस पायदान को छू लिया है जिसको हासिल करने में किसी भी ब्लॉग को दो-तीन साल आसानी के साथ लग जाते हैं| और ऐसा हो भी क्यूँ नहीं पहले दिन से ही इस ब्लॉग के लेखकों ने, जिनको ब्लॉग बुलेटिन ने रिपोर्टर नाम दिया है, इतनी मेहनत के साथ काम जो किया है| पूरे ब्लॉग जगत से बेहतरीन ब्लॉग पोस्ट को ढूँढना उन पर मनन करके एक बेहतरीन तथा रोचक पोस्ट बनाना कोई मजाक नहीं है| उस पर काम के प्रति समर्पण इतना कि शुरूआत में तो प्रत्येक माह एक-दो दिन की पोस्ट नहीं आयी पर मई के माह में तो पूरी 31 और जून के माह में अभी तक 24 पोस्ट हो चुकी हैं| एक ब्लोगर भी एक सामजिक प्राणी होता है जिसको अपने घर तथा बाहर के भी कई कार्य होते हैं, इस सही कार्यक्रमों के बीच प्रतिदिन एक पोस्ट लाने का कार्य सिर्फ वही कर सकता है जिसके लिए कार्य सर्वोपरि हो|

ब्लॉग बुलेटिन की विशेषताएं

    ब्लॉग बुलेटिन के बारे में जो एक बात मुझे बहुत अच्छी लगी वो ये कि इसमें रिपोर्टर की बाढ़ नहीं है, एक ब्लोगर ब्लॉग पर आप 100 लेखकों को जोड़ सकते हैं पर ब्लॉग बुलेटिन ने रिपोर्टर की संख्या निश्चित करके पोस्टों की गुणवत्ता को बरकरार रखा है| ब्लॉग बुलेटिन के रिपोर्टर भी ब्लॉग जगत के चुनिन्दा नगीने हैं जिनको पूरा ब्लॉग जगत जानता है, एक बार आप भी देख लीजिए-

    1. BS Pabla
    2. Kulwant Happy "Unique Man"
    3. Shah Nawaz
    4. shekhar suman.. शेखर सुमन..
    5. अजय कुमार झा
    6. चला बिहारी ब्लॉगर बनने - सलिल वर्मा
    7. देव कुमार झा
    8. मनोज कुमार
    9. रश्मि प्रभा...
    10. शिवम् मिश्रा

    भई वाह, इस लिस्ट को देखिये इसमें कौन सी कैटेगरी के ब्लोगर नहीं हैं? तकनीकी विशेषज्ञ, महिला ब्लोगर, पत्रकार, कवि तथा कहानी कार सभी तो शामिल हैं| इन जौहरियों की निगाह से कोई भी बेहतरीन ब्लॉग पोस्ट बच सकती है भला?

    ब्लॉग बुलेटिन की दूसरी विशेषता हैं, मेहमान रिपोर्टर जिनकी पोस्ट एक ठंडी हवा के झोंके की तरह होती है, जिसमें एक अलग ही खुशबू होती है तथा पाठकों को एक ताजगी दे कर जाती है| एक बार यह सौभाग्य मुझे भी प्राप्त हो चुका है| समय समय पर ब्लॉग बुलेटिन टीम ब्लॉग जगत की हस्तियों से उनके पसंद के ब्लॉग तथा किसी खास विषय पर उनके विचार के बारे में अपने ब्लॉग पर लिखती रहती है| जिससे पोस्टों में स्फूर्ति बनी रहती है, मेरे विचार में यह एक अच्छा तरीका है बिना लेखक संख्या बढाए अपने पाठकों को कई प्रकार के लेख देने की|

    ब्लॉग बुलेटिन पर लेखों की श्रंखला उसका एक बेहतर प्रयोग है, जिसमे से यह प्रमुख हैं

    • इस क्रम में सबसे पहली श्रंखला है "ब्लॉग की सैर" जो कि रश्मि जी के द्वारा निकाली गयी| अब तक इस श्रंखला में 8 लेख प्रकाशित हो चुके हैं, इस श्रंखला में रश्मि जी ने सिर्फ कविताओं को स्थान दिया, यदि आप कविताओं के शौक़ीन हैं तो आपको ब्लॉग बुलेटिन की इस श्रंखला को जरूर पढ़ना चाहिए|
    • "यादों की खुरचनें" यह दूसरी श्रंखला का नाम है और यह भी रश्मि प्रभा जी के द्वारा ही निकाली गयी है, इसमें सिर्फ उन कड़ियों को शामिल किया जाता है जिसमें लेखक अथवा कवि अपने बीते दिनों को याद करते हुए कुछ लिखता है| अभी तक इस श्रंखला में कुल 9 लेख लिखे जा चुके हैं, यदि आप भी अतीत में जाना चाहते हैं तो इस श्रंखला की सभी कड़ियों को जरूर पढ़ें|
    • सबसे बेहतरीन श्रंखला मुझे लगी और जिसका अब मैं बेसब्री से इंतज़ार भी कर रहा हूँ वह है "101 लिंक एक्सप्रेस"| यह ब्लॉग जगत में ब्लॉग बुलेटिन के द्वारा किया गया एक अनूठा प्रयोग है इसमें आपको मिलती है 101 अच्छे लिंकों की एक लंबी लिस्ट इस पोस्ट को पढ़ कर ऐसा लगता है कि मन तृप्त हो गया अब और कुछ नहीं चाहिए| इस श्रंखला में अभी तक 3 पोस्ट आयीं हैं और यह अजय कुमार झा जी के द्वारा निकाली गयी है|

    एक और बेहतर बात जो उतनी महत्वपूर्ण नहीं है पर मायने रखती है वह है ब्लॉग का टेम्पलेट का अभी तक ना बदला जाना, जाहिर है ब्लॉग बुलेटिन की टीम ने पहले ही काफी सोच विचार कर यह कार्य किया होगा, टेम्पलेट का रोज-रोज बदला जाना एक अविश्वास को जन्म देता है|

ब्लॉग बुलेटिन से जुड़ें

ब्लॉग बुलेटिन की टीम से अनुरोध

    • सभी श्रंखला में सही टैग का प्रयोग करें, जिससे कि एक टैग से उनकी पहचान हो सके, क्यूंकि सभी श्रंखला सही रूप से चिन्हित नहीं हैं इसलिए मैं अपने पाठकों को आपकी प्रत्येक सीरीज का लिंक नहीं प्रदान कर पाया| टैग एक ब्लॉग पोस्ट का महत्वपूर्ण स्तंभ होता है|
    • ई-मेल सब्सक्रिप्शन भी जोड़ें|
    • एक Contact Form अपने ब्लॉग पर जोड़ें जिससे पाठक आपसे आसानी से संपर्क कर सके, ई-मेल तो दिया है पर वह उतना सुविधाजनक नहीं होता, इसके लिए आप गूगल डॉक्स का प्रयोग कर सकते हैं|
    • अपने लिंक अथवा लोगो को पाठक अपने ब्लॉग पर लगा सकें इसके लिए आसान सी व्यवस्था करें, एक चिकलेट जरूर बनाएँ

      यह मेरा यानि एक पाठक का आपसे अनुरोध है, बाकी आपकी मर्जी है हम तो आपको इन सब के बिना भी पढते रहेंगे, आप अपनी इस तपस्या को अनवरत जारी रखिये :)

पाठकों से अनुरोध

    ब्लॉग बुलेटिन के बारे में अपने विचार कमेन्ट में लिखें और आज ही ब्लॉग-बुलेटिन को प्रोत्साहित करने के लिए ब्लॉग बुलेटिन से जुड़ें|

   यदि आप भी ब्लॉग बुलेटिन जैसे किसी ब्लॉग के बारे में जानते हैं अथवा उससे जुड़े हुए हैं तो कृपया कमेन्ट में लिखें जिससे उसके बारे में भी लिखा जा सके|

धन्यवाद