ब्लॉग पोस्ट के तीन स्तंभ – क्या आपका लेख इन तीनों पर टिका होता है?

कोई भी ब्लॉग पोस्ट अथवा लेख तीन स्तंभों पर खड़ा होता है –
शीर्षक, मुख्य लेख तथा टैग

एक शीर्षक आपके ब्लॉग पर पहली बार पाठक को लाता है पर एक टैग आपके ब्लॉग पर पाठकों को बार-बार लेकर आता है, आपके लेख आपके पाठकों पर विश्वास जमाते हैं और उनको आपके ब्लॉग का नियमित पाठक बनाते हैं|

                                                                            -योगेन्द्र पाल

शीर्षक:
शीर्षक वह पहली चीज है तो दर्शक को आपके ब्लॉग पोस्ट के बारे में बताती है, दर्शक सबसे पहले शीर्षक ही देखता है और उसके बाद यह निश्चित करता है की आपके लेख (ब्लॉग पोस्ट) को पढ़ा जाए या नहीं|
यदि आप एक नए ब्लॉग लेखक हैं तो पाठक आपके लिखने की शैली तथा विषय आदि से अनभिज्ञ होगा उस स्थिति में पाठक आपके लेख पढ़ने के लिए क्यूँ आएगा, खास तौर पर तब जबकि इंटरनेट पर पढ़ने के लिए बहुत से ब्लॉग होते हैं, इस स्थिति में पाठक सिर्फ आपके नाम से ब्लॉग पोस्ट पढ़ने नहीं आएगा (पर आपकी पहचान बनाने के बाद आपके नाम से भी पाठक आपके ब्लॉग को पढ़ने के लिए आयेंगे)|
जब आप अपनी ब्लॉग पोस्ट को सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर करेंगे तो शीर्षक जरूर शेयर होगा| इस लिहाज से लेख का शीर्षक एक महत्वपूर्ण चीज है इसलिए कभी भी अपने लेख के शीर्षक को जल्दबाजी में निश्चित ना करें|
मुख्य लेख:
यह आपका लेख है जिसको लिखने के लिए आपने बहुत मेहनत की है, इसी को आपने सबसे ज्यादा समय दिया है और आप चाहते हैं कि आपके लेख को ज्यादा से ज्यादा पाठक पढ़ें, उस पर कमेन्ट करें, शेयर करें, लाइक करें तथा बुकमार्क करें| इसके लिए आपको कुछ ऐसा लिखना होगा जो आपके पाठकों के लिए वाकई काम का हो, बाकी लेखकों से कुछ अलग हो तथा उसकी भाषा इतनी आसान हो जिसको आपका पाठक सरलतापूर्वक समझ सके|
मुख्य लेख में वही लिखा होना चाहिए जिसकी तरफ आपका शीर्षक इशारा कर रहा है, सामान्यतया जब भी हम लेख के बारे में सोचते हैं तो उसमे किस बिषय पर लिखना है यह तय कर लेते हैं और उसके अनुरूप उसका शीर्षक निश्चित कर लेते हैं लिखना प्रारंभ करते हैं पर लिखते समय हमारी दिशा बदल जाती है और शीर्षक हमारे ब्लॉग के लेख से मेल नहीं खाता, इससे बचना चाहिए|
टैग:
मेरे हिसाब से यह किसी भी ब्लॉग पोस्ट का सबसे जरूरी तथा सबसे उपेक्षित स्तंभ है, आप तौर पर लेखक अथवा ब्लोगर शीर्षक तथा लेख पर पूरा ध्यान देते हैं पर टैग पर ध्यान नहीं देते, टैग आपके लेख को व्यवस्थित करता है| यह ना सिर्फ आपके लेखों को आपके ब्लॉग पर बल्कि अन्य कई ब्लॉग एग्रीगेटरों पर भी आपके लेखों को व्यवस्थित करने का कार्य करता है|
टैग आपके ब्लॉग पर एक लंबे समय तक ट्रैफिक लाने का कार्य करता है, यदि आप अपने ब्लॉग को ब्लॉग एग्रीगेटर में सम्मिलित करते हैं पर अपने ब्लॉग पोस्टों पर आप कोई भी टैग नहीं लगाते तो आपका लेख समयानुसार तो ब्लॉग एग्रीगेटर पर दिखाई देगा पर विषयानुसार नहीं दिखाई देगा, जिससे आपके ब्लॉग को पढ़ने के लिए बाद में पाठक नहीं मिल पायेंगे|
अपने ब्लॉग पोस्ट पर सम्बंधित टैग जरूर लिखें, टैग लिखते समय यह याद रखें की वह आपके लेख से सम्बंधित हैं अथवा नहीं, गैर जरूरी टैग आपके ब्लॉग पर से पाठकों का विश्वास घटा सकते हैं|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top